Shako ka sabse pratapi shasak kon tha

Shako ka sabse pratapi shasak kon tha

Shako ka sabse pratapi shasak kon tha | Shako k sabse pratapi shasak kon tha | Shako ka sabs pratapi shasak kon tha | Shako ka sabse pratpi shasak kon tha | Shako ka sabse pratapi shsak kon tha | Shako ka sabse pratapi shasak | Shako ka sabse pratapi shasak kon |

शक प्राचीन मध्य एशिया में रहने वाली स्किथी लोगों की एक जनजाति या जनजातियों का समूह था। शक मूलतः आर्य थे।[1][2] इनकी सही नस्ल की पहचान करना कठिन रहा है क्योंकि प्राचीन भारतीय, ईरानी, यूनानी और चीनी स्रोत इनका अलग-अलग विवरण देते हैं।

Shako ka sabse pratapi shasak kon tha

Que.-1. शकों का सबसे प्रतापी शासक कौन था ?

Ans. शकों का सबसे प्रतापी शासक रुद्रदामन प्रथम था |

No.-1. शकों का सबसे प्रतापी शासक चस्टन का पौत्र रुद्रदामन प्रथम था, जिसका शासन (130-150 ई.) गुजरात के बड़े भाग पर था ।

No.-2. जूनागढ़ लेख से प्राप्त साक्ष्य के आधार पर रुद्रदामन का साम्राज्य पूर्वी- पश्चिमी मालवा, द्वारका ,जूनागढ़, साबरमती नदी मारवाड़, सिंधु घाटी ,उत्तरी कोकण एवं विन्ध्य पर्वत तक फैला हुआ था ।

No.-3. रुद्रदामन ने काठियावाड़ की अर्धशुष्क सुदर्शन झील (मौर्यों द्वारा निर्मित) का जीर्णोद्धार किया ।

No.-4. रुद्रदामन संस्कृत का बड़ा प्रेमी था । उसने ही सबसे पहले विशुद्ध संस्कृत भाषा में लंबा अभिलेख (गिरनार अभिलेख) जारी किया ।

Scroll to Top