Newtons Law of Motion

Newtons Law of Motion

Newtons Law of Motion | Newtons Law  Motion | Newtons Law of Motin | Newton Law of Motion | Newtons Law of Moton | Newtons Lw of Motion | Nwtons Law of Motion | Newtons Law of Mion |Netons Law of Motion |

What are Newton’s Laws of Motion? An object at rest remains at rest, and an object in motion remains in motion at constant speed and in a straight line unless acted on by an unbalanced force. The acceleration of an object depends on the mass of the object and the amount of force applied.

Newtons Law of Motion

न्‍यूटन का पहला नियम (Newton’s first law)

No.-1. कोई वस्‍तु विराम की अवस्‍था में है या वह एक सीधी रेखा में चल रही है तो वह वैसे ही चलती रहेगी जब तक कि उस पर कोई बाहरी वल लगाकर उसकी अवस्‍था में परिवर्तन न किया जाए वस्‍तुओं की प्रारंभिक अवस्‍था में स्‍वत: परिवर्तन नहीं होने की प्रवृति को जडत्‍व कहते हैं इसीलिए न्‍यूटन के प्रथम नियम को जडत्‍व का नियम भी कहते हैं

उदाहरण –

No.-1. रूकी हुई गाडी के अचानक चल पडने से उसमें बैठे यात्री पीछे की ओर छुक जाते हैं

No.-2. हथौडे को हत्‍थे में कसने के लिए हत्‍थे को जमीन पर मारते हैं

No.-3. पेड की टहनियों को हिलाने से उससे फल टूटकर नीचे गिर जाते हैं

  न्‍यूटन का दूसरा नियम (Newton’s Second law)

No.-1. वस्‍तु के संवेग में परिवर्तन की दर उस पर आरोपित बल के अनुक्रमानुपाती होती है तथा संवेग परिवर्तन आरोपित बल की दिशा में होता है

या

No.-1. पर आरोपित बल, उस वस्‍तु के द्रव्‍यमान तथा बल की दिशा में उत्‍पन्‍न त्‍वरण के गुणनफल के बराबर होता है |

No.-2.  अगर किसी m द्रव्‍यमान वाली वस्‍तु पर F बल आरोपित करने से उसमें बल की दिशा में a त्‍वरण उत्‍पन्‍न होता है तो दूसरे नियम के अनुसार F = ma

उदाहरण –

No.-1. समान वेग से आती हुई क्रिकेट गेंद एवं देनिस गेंद में से टेनिस गेंद को कैच करना आसान होता है

No.-2. कराटे खिलाडी द्वारा हाथ के प्रहार से ईटोंं की पटटी तोडना

No.-3. अधिक गहराई तक कील को गाडने के लिए भारी हथौडे का उपयोग किया जाता है

न्‍यूटन का तीसरा नियम (Newton’s Third law)

No.-1. प्रत्‍यके क्रिया के बराबर परन्‍तु विपरीत दिशा में प्रतिक्रिया होती है

या  

No.-1. दो वस्‍तुओं की पारस्‍परिक क्रिया में एक वस्‍तु जितना बल दूसरी वस्‍तु पर लगाती है दूसरी वस्‍तु भी विपरीत दिशा में उतना ही बल पहली वस्‍तु पर लगाती है No.-2.  इसमें से किसी एक बल को क्रिया व दूसरे बल को प्रतिक्रिया  कहते हैं इसीलिए इसे क्रिया-प्रतिक्रिया को नियम भी कहते हैं

उदाहरण –

No.-1. बन्‍दूक की गोली छोडते समय पीछे की ओर झटका लगना

No.-2. नाव के किनारे पर से जमीन पर कूदना पर नाव का पीछे हटना

No.-3. कूऑं से पानी खींचने समय रस्‍सी टूट जाने पर व्‍यक्ति का पीछे गिर जाना

Scroll to Top