Nand Vansh ka Sansthapak kaun tha

Nand Vansh ka Sansthapak kaun tha

Nand Vansh ka Sansthapak kaun tha | Nand Vnsh ka Sansthapak kaun tha | Nand Vansh k Sansthpak kaun tha | Nand Vansh ka Sansthapak kaun  | Nand Vansh ka Sansthapak tha | Nand Vansh ka Sansthapak | Nand Vansh ka Sansthak kaun tha |

नंदवंश प्राचीन भारत का एक राजवंश था। भारतीय तिथिक्रम और वंशावलीयो के अनुसार नंदवंश का शासनकाल ईपू १६६४ – १५९६ के मध्य में आता है।[1] पुराणों में इसे महापद्मनंद कहा गया है तथा सर्वक्षत्रान्तक आदि उपाधियों से विभूषित किया गया है। जिसने पाँचवीं-चौथी शताब्दी ईसा पूर्व उत्तरी भारत के विशाल भाग पर शासन किया। नंदवंश की स्थापना महापद्मनंद ने की थी।

Nand Vansh ka Sansthapak kaun tha

Que.-1. नंद वंश का संस्थापक कौन था ?

Ans. नंद वंश का संस्थापक महापद्यनंद था ।

Point.-1. पुराणों में महापद्मनंद को सर्वक्षत्रान्तक तथा भार्गव कहा गया है ।

Point.-2. उसने विशाल साम्राज्य स्थापित कर एकराट और एकच्छत्र की उपाधि धारण की ।

 

Scroll to Top
Scroll to Top