Know about Human Blood

Know about Human Blood

Know about Human Blood | Know abut Human Blood | Know about Humn Blood | Know about Human Blod | Know t Human Blood | Know about Blood | Know about Hun Blood | Know abot Human Blood |

Human blood is an incredibly important fluid. Without this fluid, no human can survive. One of the most important functions of blood is to carry oxygen to different parts of the body. In absence of blood, body will fail to receive any oxygen which will result in death.

Know about Human Blood

क्‍या होता है रक्‍प्‍लाज्‍मा (What is blood plasma)

No.-1. रक्‍त प्‍लाज्‍मा हल्‍के पीले रंग का क्षारीय द्रव है जिसमें 90% जल तथा 10% अन्‍य पदार्थ होते हैं इसमें प्रोटीन की सबसे अधिक मात्रा होती है प्रोटीन के कारण ही रक्‍त चिपचिपा होता है |

No.-2. इसमें एल्‍ब्‍यूमिन, ग्‍लोब्यूूमिन, तथा फाइब्रिनोजन पाया जाता है जो प्रोटीन के ही रूप हैं फाइब्रिनोजन रक्‍त के थक्‍का जमने में काम करता है तथा रक्‍त को बहने से रोकता है |

No.-3. प्‍लाज्‍मा में कैल्सियम, मैग्‍नीशियम एवं पोटेशियम के कार्बोनेट, फास्‍फेट एवं क्‍लोराइड उपस्थित रहते हैं इसके अलावा इसमें प्रोथौम्बिन, विटामिन, एन्‍जाइम तथा एन्‍‍टीबॉटीज होते हैं

रक्‍कणिकाएं (Blood corpuscles)

रक्‍कणिकाऍ निम्‍प्रकार की होती हैं

श्‍वेत रक्‍कणिकाएं (White blood corpuscles)

No.-1. ये संख्‍या में लाल रक्‍त कणिकाओं से काफी कम होती हैं लगभग 625 लाल रक्‍त कणिकाओं के पीछे मात्र एक श्‍वेत रक्‍त कणिकाएं होती हैं

No.-2. इसका निर्माण अस्थि मज्‍जा एवं लसीका ग्रंथियों में होता है श्‍वेत रक्‍त कणिकाओं में भक्षण की क्षमता होती है ये बाहरी बस्‍तुओं, जीवाणुओं, विषाणुओं आदि का भक्षण कर लेते हैं इस प्रकार ये शरीर को रोगों से सुरक्षा प्रदान करता है

लाल रक्‍कणिकाऍ (Red blood corpuscles)

No.-1.  रक्‍त में इनकी संख्‍या सर्वाधिक होती है ये नन्‍ही-नन्‍ही गोल व चपटी टिकियों के समान होती है |

No.-2.  इनका मुख्‍य कार्य ऑक्‍सीजन और कार्वन डाइ ऑक्‍साइड का परिवहन करना है इनमें हीमोग्‍लोबिन उपस्थित रहता है जो गैसों को आदान-प्रदान में मदद करता है इनका निर्माण अस्थि मज्‍जा में एवं विनाश प्‍लीहा में तथा अल्‍प मात्रा में यकृत में होता है

Know about Human Blod

बिम्‍बाणु (PLatelets)

No.-1.  इन्‍हें थ्रोम्‍बोसाइटस भी कहते हैं इनका आकार लाल रक्‍त कणिकाऍ से भी छोटा होता है ये रक्‍‍‍त को जमने मेें सहायता करते हैंं किसी- किसी रोग की स्थिति में इनकी संख्‍या अत्‍यधिक कम हो जाती है

No.-2. ऐसी स्थिति में त्‍वचा में से रक्‍त का निस्रवण होने लगता है जिसके कारण त्‍वचा पर लाल-लाल चकत्‍ते पड जाते हैं

No.-3. एक मनुष्य के शरीर में लगभग 05-06 लीटर रक्त रहता है

No.-4. सबसे पहली बार रक्‍त का परिसंचरण 1628 में ब्रिटिश चिकित्‍सक विलियम हार्वे ने किया था

No.-5. दुनिया का पहला ब्‍लड बैक संयुक्‍त राज्य अमेरिका में 1973 में बनाया गया था

No.-6. मानव शरीर में खून की मात्रा कुल वजन का 7% होती है

No.-7. एक स्‍वस्‍थ शरीर में खून की रफ़्तार 400 किमी प्रति धंटा होती है

No.-8. पूरे शरीर में एक बार रक्त संचरण (Blood Circulation) में लगभग 23 सेकेण्ड का समय लगता है

No.-9. मनुष्य में चार (“A”, “B”, “AB”, “O”) रक्त समूह पाया जाता है

No.-10. रक्‍त समूह की खोज सन 1901 में लैण्‍ड स्‍टीनर ने की थी

No.-11. एक स्वस्थ्य मनुष्य का रक्तदाब (Blood pressure) पारे पर “120 / 80mm” होता है

No.-12. रक्त समूह O सर्वदाता (Universal Blood Donor) होता है

No.-13. रक्त समूह AB सर्वग्राही (Universal Blood Recipient) होता है

Scroll to Top