Kavi kalidas kiske rajkavi the

Kavi kalidas kiske rajkavi the

Kavi kalidas kiske rajkavi the | Kavi klidas kiske rajkavi the | Kavi kalidas kisk rajkavi the | Kavi kalidas kiske rajkvi the | Kavi kalidas kiske rajkavi th | Kavi klidas kiske rajkavi the | Kvi kalidas kiske rajkavi the | Kavi kaidas kiske rajkavi the | Kavi kalidas kiske rajkavi  |

हेल्लो दोस्तों आज हम एक महान साहित्यकार, नाटककार और कवि कालिदास जी के बारे में बात करने वाले हिया की Kavi Kalidas Kiske Rajkavi The (कवी कालिदास किसके राजकवि थे) तो आपको इस आर्टिकल से पता चल जायगा की कवि कालिदास किसके राज्यकवि थे ।

Kavi kalidas kiske rajkavi the

No.-1. चंद्रगुप्त द्वितीय के शासनकाल में संस्कृत भाषा का सबसे प्रसिद्ध कवि कालिदास थे |

No.-2. कालिदास – ऋतुसंहार, मेघदूत, कुमारसंभव, रघुवंश ,मालविकाग्निमित्रम्, अभिज्ञान शाकुंतलम् , विक्रमोर्वशीयम

चंद्रगुप्त द्वितीय ( 380-412 ई.)

No.-1. चंद्रगुप्त द्वितीय का अन्य नाम देवगुप्त ,देवराज ,देवश्री, तथा उपाधियाँ विक्रमांक, विक्रमादित्य ,परमभागवत आदि थी ।

No.-2. इनको सांची अभिलेख में ‘देवराज’ एवं वाकाटक लेखों में ‘देवगुप्त’ कहा गया है ।

No.-3. चंद्रगुप्त-ll के शासनकाल में चीनी बौद्ध यात्री फाहियान भारत आया ।

No.-4. शकों पर विजय के उपलक्ष्य में चंद्रगुप्त द्वितीय ने चांदी के सिक्के चलाए ।

No.-5. दिल्ली के निकट महरौली लौह स्तंभ लेख से ज्ञात होता है कि चंद्रगुप्त द्वितीय ने सिंधु नदी पार कर वहलिकों पर विजय प्राप्त की ।

 

Scroll to Top