Arthshastra ke lekhak kon hai

Arthshastra ke lekhak kon hai

Arthshastra ke lekhak kon hai | Arthshastra k lekhak kon hai | Arthshastra ke lkhak kon hai | Arthshastr ke lekhak kon hai | Arthshastra ke lekhak kon | Arthshastra ke lekhak hai | Arthshastra ke lekhak |

अर्थशास्त्र , कौटिल्य या चाणक्य (चौथी शदी ईसापूर्व) द्वारा रचित संस्कृत का एक ग्रन्थ है। इसमें राज्यव्यवस्था, कृषि, न्याय एवं राजनीति आदि के विभिन्न पहलुओं पर विचार किया गया है। अपने तरह का (राज्य-प्रबन्धन विषयक) यह प्राचीनतम ग्रन्थ है।

Arthshastra ke lekhak kon hai

Que.-1. अर्थशास्त्र के लेखक कौन है ?

Ans. अर्थशास्त्र के लेखक चाणक्य है |

Point.-1. अर्थशास्त्र में शीर्ष अधिकारियों को तीर्थ कहा गया है । इनकी संख्या 18 थी ।

तीर्थ- संबंधित विभाग

No.-1. मंत्री ————प्रधानमंत्री

No.-2. पुरोहित ——–धर्म एवं दान विभाग का प्रधान

No.-3. सेनापति ——सैन्य विभाग का प्रधान

No.-4. युवराज——– राजा का उत्तराधिकारी

No.-5. समाहर्ता ——–राजस्व विभाग का प्रधान

No.-6. सन्निधाता—- राजकीय कोषाध्यक्ष

No.-7. प्रदेष्टा ——फौजदारी न्यायालय का न्यायाधीश

No.-8. नायक———– नगर रक्षा का अध्यक्ष

No.-9. कर्मान्तिक ——उद्योगों एवं कारखानों का अध्यक्ष

No.-10. दण्डपाल—– पुलिस अधिकारी

No.-11. व्यावहारिक ——नगर का प्रमुख न्यायाधीश

No.-12. नागरक(पौर) —-नगर कोतवाल

No.-13. दुर्गपाल ——-राजकीय दुर्ग रक्षकों का अध्यक्ष

No.-14. आन्तपाल ——सीमावर्ती दुर्गों का रक्षक

No.-15. आटविक——– वन विभाग का प्रधान

No.-16. दौवारिक——– राजकीय द्वार रक्षक

No.-17. आन्तर्वशिक—– अन्त:पुर का अध्यक्ष

No.-18. मंत्रीपरिषद् ———परिषद का अध्यक्ष

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Scroll to Top